person standing on grass field while opening hands

वर्तमान में किया गया एक प्रयास आपके भविष्य का सुनहरा कल हो सकता है। आपकी मेहनत आपको कहां से कहां, पहुंचा सकती है। अगर आप में इच्छाशक्ति है। तो सारी बाधाओं को पार कर आप अपनी मंजिल तक पहुंच सकते हैं। बशर्ते आपके द्वारा अपनाए गए सारे सूत्र तय करेंगे कि आपकी मंजिल कब और कितनी समय बाद मिलेगी।

चुना हुआ रास्ता

आपको अपनी मंजिल तक पहुंचने के लिए ढेर सारे रास्तों का चुनाव मिलेगा। यह आपको तय करना होगा कि उन रास्तों में से कौन सा रास्ता आप अपनी मंजिल तक पहुंचने का रास्ता होगा। ज़ब उन्ही मे से एक रास्ते पर चलते हैं। तब पता चलता है कि उन रास्तों में क्या-क्या कठिनाइयां या चुनौती का सामना करना पड़ता है। सभी रास्ते पहुंचायेंगे आपकी मंजिल तक, लेकिन आपके चुने हुए रास्ते तय करेंगे कि आपकी मंजिल कब और कितने परिश्रम बाद मिलेगी।

इसलिए अपने सारे अनुभवव विवेक से रास्तो का चुनाव करें। अपने द्वारा बनाए गए वसूल व सिद्धांत व सत्य चरित्र मे कभी फेरबदल ना करें। सत्य के रास्ते पर चलकर, भविष्य में लंबे समय तक कामयाब बने रहने व व्यक्तित्व को शानदार उभारने का काम करेगा और अपके गंतव्य तक पहुंचने का रास्ता यथार्थ में बदलेगा । जो आपके मेहनत व परिश्रम के हुंकार से रास्ता बनेगा वही रास्ता आपका भविष्य में गुणगान करेगा।

अगर कुछ बड़ा करने की सोचते हैं

अगर आपको अपने जीवन में कुछ बनना या कुछ बड़ा करना चाहते हैं। लेकिन क्या करें, कैसे करें कुछ मालूम नहीं है। तो सबसे बड़ी और जरूरी बात है कि आप अपने आपको खुद थोड़ा समय दें और तय करें कि आप भविष्य में आने वाली सभी तरह की कठिन परिस्थितियों को झेलने के लिए तैयार हैं।

अपने व्यक्तित्व को मजबूत करें और सकारात्मक ऊर्जा का संचार करें। फिर सोचे आप को भेड़ बकरियों की तरह चलना है या शेर की तरह चलना है। क्योंकि भेड़ बकरियों को चलाने के लिए चरवाहे की जरूरत पड़ती है। उनको अपनी दिशा मालूम नहीं होती है। उनको गाइडेंस की जरूरत पड़ती है और शेर अपना रास्ता खुद चुनता है। जीवन भी ठीक इसी तरह से है क्योंकि आप किसी के प्रभाव में रहकर रास्ता बनाएंगे या अपने रास्ते की नीँव खुद रखेंगे। यह आपको खुद चुनना पड़ेगा। क्योंकि प्रभावी रास्ता कभी भी सफलता की तरफ नहीं ले जाता है।

रास्ते चाहे जैसे भी हो, चलना खुद को पड़ता है। चाहे जितना भी कठिन रास्ता हो, हमेशा आगे बढ़ते रहना चाहिए। हमेशा एक बात ध्यान रखना चाहिए। जब तक कामयाबी नहीं मिलती है, तब तक कुछ अपने या पराए लोग नाकामयाबी का आपको ताना मारेंगे। आपके रास्तों को काटेंगे। आपके इरादों को कमजोर करने में लग जाएंगे। लेकिन अपने मजबूत इरादों से टस से मस नहीं होना है। सभी की दुर्भावना को नजरअंदाज कर आगे बढ़ते रहना है। जब एक दिन कामयाब हो जाएंगे, तब यही लोग आप की कामयाबी के किस्से गाएंगे।

वर्तमान में बड़ाया गया एक कदम

बड़ी से बड़ी रुकावट ओं को अपने विवेक से दूर करते रहना है। और सिर्फ और सिर्फ वर्तमान में जीना है। जब आप वर्तमान को 100% परसेंट देंगे तभी आप भविष्य में कुछ उम्मीद रख पाएंगे। भविष्य में कुछ बड़ा करने के लिए आपको वर्तमान में उसका बीज बोना पड़ेगा। कठिन संघर्ष के साथ-साथ अपनी गलत आदतों में भी फेरबदल करना पड़ेगा। तभी नवीन भविष्य की तरफ पहला कदम बढ़ा पाएंगे। अपने इरादों में जान फूंक पाएंगे। वर्तमान में बढ़ाया गया एक कदम भविष्य के कई दरवाजे खोल देगा। इसलिए वर्तमान को अहमियत देना ना भूलें।

जब तक वर्तमान को ठीक नहीं करेंगे तब तक भविष्य खयाली पुलाव के समान होगा। उसमें तनिक भी सत्यता नहीं होगी। वर्तमान मे कठोर से कठोर परिश्रम की खुद को भेट चढ़ाना होगा। सारे सुखों का त्याग कर मेहनत की तरफ कदम बढ़ना होगा। अपने सुनहरे भविष्य के लिए वर्तमान में खुद बदलाव कर संघर्ष की तरफ एक कदम बढ़ाना होगा। वर्तमान में रखा गया एक कदम, भविष्य की सीढ़ी बनेगा। उसी सीढ़ी से चढ़कर आपको अपनी मंजिल तक का रास्ता तय करना होगा। अगर वर्तमान मे जिएंगे तभी भविष्य बन पाएगा।

अगर हम उम्मीद करते हैं। कि हमसे लोग अच्छे से बात करें, मेरा मान सम्मान करें। मेरी बातों को अहमियत दें। तो सबसे पहले यह सारे गुण खुद पर अमल करने होंगे। सारे के सारे गुणों को दूसरों की जिंदगी मे प्रभावित करने होंगे। क्योंकि सबसे सरल व सटीक बात यही है कि जैसा बोयेंगे वैसा ही काटेंगे।

आपका व्यक्तित्व आपका दर्पण बनेगा

झूठ की बुनियाद पर अपने व्यक्तित्व का आधार रखेंगे तो झूठ ही हाथ लगेगा। झूठ के जितने सगे संबंधी हैं। वही हमारे व्यक्तित्व पर छाए रहेंगे। हम चाहे या ना चाहे लेकिन अगर किसी एक चीज का भी गलत साथ देंगे तो सबसे पहले अपने व्यक्तित्व पर आघात पहुंचायेंगे और अपने भविष्य को अंधकार की तरफ ले जायेंगे। इसलिए वर्तमान में अपने व्यक्तित्व, अपनी इच्छाशक्ति, अपने सद्भावना को हमेशा पकड़ कर रखना चाहिए। अपने सिद्धांतों में इन बातों का हमेशा ध्यान रखना चाहिए। तभी वर्तमान में बढ़ाया गया एक कदम भविष्य मैं सुनहरा कल बनेगा और आपका व्यक्तित्व आपका दर्पण बनेगा आपकी चुनी गई राहें दूसरों का रास्ता बनेंगे और आपके अनुभव दूसरों के सिख प्रदान करेंगे।

Disclaimer – यहां पर लिखी सभी post किसी भी धर्म, मानवता के विपरीत नहीं है। यह केवल सिर्फ मेरे विचार हैं। जो केवल reader को अपने विचारों से अवगत कराना है। मेरे विचारों से सहमत होना या ना होना यह उनके विचारों पर निर्भर करता है। यहां जो भी content है, उसके सारे copyright, neetuhindi.com के हैं।

 322 total views,  3 views today

100% LikesVS
0% Dislikes
9 thoughts on “वर्तमान की नीव भविष्य की सीढ़ी”
  1. It’s perfect time to make some plans for the future and it is time to be happy.
    I have read this put up and if I may just I desire to suggest
    you few interesting things or suggestions. Perhaps you
    could write subsequent articles referring to this
    article. I desire to read even more things about it!

    1. मुझे बेहद खुशी है कि आपको मेरा आर्टिकल पसंद आया आपके प्यार और सहयोग के लिए धन्यवाद!

  2. Magnificent goods from you, man. I have understand your stuff previous to
    and you’re just too fantastic. I actually like what you have
    acquired here, certainly like what you are stating and the way in which you
    say it. You make it enjoyable and you still take care of to keep
    it sensible. I cant wait to read much more from you. This is really a tremendous web site.

    1. मुझे बहुत अच्छा लगता है । जब आपको मेरा पोस्ट पसंद आता है । आपके कमेंट पढ़कर मैं बहुत उत्साहित हो जाती हूं ।आपके प्यार और सहयोग के लिए धन्यवाद!

  3. Excellent article. Keep posting such kind of information on your page.
    Im really impressed by your blog.
    Hey there, You’ve done a fantastic job. I will definitely digg it and for my part recommend
    to my friends. I am confident they will be benefited from this site.

    1. मुझे बहुत अच्छा लगता है । जब आपको मेरा पोस्ट पसंद आता है । आपके कमेंट पढ़कर मैं बहुत उत्साहित हो जाती हूं ।आपके प्यार और सहयोग के लिए धन्यवाद!

  4. I do accept as true with all the concepts you have introduced for
    your post. They are really convincing and will definitely work.
    Nonetheless, the posts are too brief for beginners. May just you
    please lengthen them a bit from next time? Thanks for the post.

    1. मुझे बहुत अच्छा लगता है । जब आपको मेरा पोस्ट पसंद आता है । आपके कमेंट पढ़कर मैं बहुत उत्साहित हो जाती हूं ।आपके प्यार और सहयोग के लिए धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *